बिहारी बीएफ बीएफ

Image source,जंगल में चुदाई बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सुहागरात का सेक्स बीएफ: बिहारी बीएफ बीएफ, अचानक विनोद अंकल ने मम्मी की कमर दबा कर उन्हें अपने से चिपका लिया और उनका चेहरा मम्मी के चेहरे की तरफ़ बढने लगा.

हिंदी में सेक्स बीएफ वीडियो

चाहती तो वो भी थी…उन्होंने पहले थोड़ा चाटा जीभ से, फ़िर होटों को खोला और लंड का सुपारा मुँह में लिया… मैंने देखा कि उनके छोटे मुँह में लंड नहीं जा रहा था. देहाती बीएफ ब्लूइतने दिनों से लण्ड की चाहत में तड़पती रही थी और अब अचानक ही जैसे मन चाही बात बन गई.

पाठको, आप को यह मेरी चुदैल बीवी की सच्ची कहानी कैसी लगी? जब आपकी प्रतिक्रिया मिलेगी तभी मैं नीना की चूत के और किस्से लिखूँगा. बीएफ वीडियो देसी चुदाईउसे मैंने एक कुर्सी पर बिठाया, उसके पैर ऊपर अपने कंधे पर लिए और मैं उसके सामने पंजो के बल बैठा, उसकी चूत पर भी मक्खन लगाया और उसे चाटने लगा।उसके चूत के दाने को मुँह में लेकर जैसे ही मैंने चूसना शुरू किया उसकी चूत से पानी निकलने लगा.

प्रेषक : जोर्डनइस घटना के बीच मुस्तफा के अड्डे पर:मुस्तफा- जगत (उसका मुँह बोला भाई), कल्लू तो उस दोनों की माँ चोद कर ही आएगा लेकिन यार मुझे भी आज कोई लड़की चोदनी है, जा जुगाड़ कर।जगत जाता है और थोड़ी देर बाद वापिस आता है।जगत- लो भाई आ गई मस्त चीज।मुस्तफा- कहाँ है?तभी जगत ने आवाज दी- ओ मीना…….बिहारी बीएफ बीएफ: प्रेषक : राज कार्तिकसोनिया अब मस्त गांड उठा उठा कर मेरा लण्ड ले रही थी अपनी चूत में।करीब दस मिनट के बाद सोनिया का शरीर अकड़ने लगा और वो चिल्ला उठी- मैं तो गईईई.

मैंने उसकी ब्रा नहीं उतारी बल्कि एक स्तन ब्रा को नीचे खींच कर बाहर निकाल लिया और चुचूक को चुसुकने लगा.मैंने झट से उसका लौड़ा निकाला और अपने हाथों में ले लिया और फिर मुँह में डाल कर जोर जोर से चूसने लगी। मैं सोफे पर ही घोड़ी बन कर उसका लौड़ा चूस रही थी और अनिल मेरे पीछे आकर मेरी चूत चाटने लगा.

बीएफ भेजो बीएफ सेक्सी - बिहारी बीएफ बीएफ

औइ कामिनी!और जैसे ही उसकी ज़बान मेरी चूत पर आई, मैं नशे में उसकी चूत पर गिर पड़ी और उसकी चूत पर प्यार करने लगी और चूसने लगी।हम दोनों की चीखें निकल पड़ी, दोनों के चूतड़ उछल रहे थे।कामिनी मेरे चूतड़ दबा रही थी और अचानक उसकी ज़बान मेरी चूत के छेद में घुस पड़ी तो ऐसा लगा जैसे गरम पिघलता हुआ लोहा मेरी चूत में घुस गया हो, मैं चिल्ला पड़ी उसकी चूत से झूम कर- आ.मैं जीजू से बोली- जीजू, मजा आ गया!जीजू बोले- मजा तो तब आएगा जब तू रंडी की तरह गालियाँ देने लगे!मैंने कहा- मुझे तो गालियाँ आती नहीं हैं.

नयन, जैसे तुमने मेरी चूत चोदी और मेरी गांड चोदी, उसी तरह अब मेरे मुँह को चूत समझ कर जोर से चोदो!”मैंने जैसे ही अपनी कमर हिलाना चालू किया, मामी ने अपने मुँह से कमाल दिखाना चालू किया, नए-नए तरीके से मेरे लंड को मुँह में चूस रही थी, कभी अपने होंटों का दबाव बना कर, कभी अपनी जबान से सहला कर मुझे पागल कर रही थी.बिहारी बीएफ बीएफ अचानक देखा कि कोई मेरे बेडरूम की खिड़की में चढ़ गया है, थोड़ी देर तक तो मैंने ध्यान नहीं दिया फिर कुछ हलचल हुई तो परदा हटा के देखा तो चाँदनी थी.

”ठीक है,” वैल ने नम्रता से कहा,”तुम सिर्फ यह देखो कि यह जगह तुम्हारे लिए आरामदायक है या नहीं ! नग्नता के बारे में सोचने की जरूरत नहीं और न ही किसी के दबाव में आने की ! तुम वो करो जो तुम्हारा मन चाहे.

बीएफ चुदाई दिखाओ चुदाई?

बिहारी बीएफ बीएफ शुक्रिया… आपका नाम क्या है?”थाने नाम कांई करनो है… छबीली नाम है म्हारो, ओर थारा?”नाम से क्या करना है… वैसे मेरा नाम छैल बिहारी है!” मैंने उसी की टोन में कहा.

इंडियन बीएफ सेक्सी ब्लू?ब्लू पिक्चर दीजिए बीएफ

बिहारी बीएफ बीएफ न सिर्फ़ थामे हुए था बल्कि हौले-हौले सहला भी रहा था…मेरा लंड इस कदर अकड़ चुका था कि लगता था अभी पैंट फाड़ के निकल पड़ेगा। नेहा मुझे इतने जोर से भींचे हुए थी कि उसकी फूली हुई चूत मेरे लंड के उभार को महसूस कर रही थी… और वो अपने चूतड़ धीरे-धीरे मेरे उभरे लंड पे रगड़ रही थी। मैंने उसका चेहरा अपनी गर्दन से हटाया.

बुढ़िया की बीएफ

’शायद उसकी भी इच्छा ये ही थी इसलिए उसने भी मेरी बात सुनते ही चूत में से लंड निकाल लिया और चूत के पानी से सना हुए लंड मेरे मुंह में ठूस दिया.नयन, अगर तुमको तकलीफ ना हो तो थोड़ा इसे भी चाटो ना!”मैंने अपनी जीभ गांड के छेद पर रखी और धीरे धीरे अपनी जीभ का जोर बढ़ाया.

बिहारी बीएफ बीएफ मैं कुछ नहीं सुन पा रही थी, कुछ नहीं समझ पा रही थी। कानों में यंत्रवत आवाज आ रही थी- निशा… बी ब्रेव…! यह सिर्फ हम तीनों के बीच रहेगा….

बीएफ बीपी सेक्सी पिक्चर

बीएफ बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफजाने का मन उसका भी नहीं था और ना मेरा उसको जाने देने का ! लेकिन जाना भी ज़रूरी था क्योंकि अगली दिन भी मिलना था।वो चली गई अगले दिन आने का कह कर !दोस्तो, अभी एक और दिन था घर वालो के आने में और उसमें मुझे सारा काम करना था, मतलब पूरा सेक्स !तो मैं उसके लिये नई शरारत सोचने में लग गया।तो यह था मेरा और मेरी प्यारी शिष्या के प्रेम-मिलन का दूसरा दिन.

मैंने उन्हें बाहों में उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और वो मेरा लंड चूसने लगी फिर मैंने उनको घोड़ी बनने के लिए कहा.मगर कहते हैं ना जिस तरह बुरे दिन ज्यादा दिन तक नहीं रुकते उसी तरह अच्छे दिन भी ज्यादा दिनों तक नहीं रुकते.

मैंने हिम्मत कर के बात छेड़ दी- चाची ! चाचा की बर्थ-डे पार्टी में खूब मजा आया !!चाची ने कहा- बहुत दिन बाद घर में पार्टी का माहौल बना था … सभी ने खूब मज़ा किया !मैंने बात छेड़ी- चाची, आपने तो पार्टी के बाद भी खूब एन्जोय किया !चाची चौंक गई- क्या मतलब?मैंने सब देखा था ! चाचा के दोस्तों के साथ खूब मजे किए थे.

पर यदि इसे ठीक ढंग से गर्म किया जाये तो यह 8-10 लड़कियों का मज़ा एक ही बार में दे सकती है… इसलिए मैं इसकी चूत, गाण्ड सिलने का आदेश वापिस लेता हूँ और लड़की पर छोड़ता हूँ कि वो मेरी सबसे प्यारी रखैल बनना चाहती है या गली मोहल्ले में नंगी घूमने वाली रंडी? या फिर किसी टुच्चे की रखैल बन कर अपनी जवानी बर्बाद करना चाहती है और नौकरानी बने रहना चाहती है सारी ज़िन्दगी.

उसके स्कूल जाने के बाद 8 बजे मैं ज्योति के कमरे में उसको जगाने के लिए गया तो उसके कपडे अस्त-व्यस्त थे. के पास बैठा था। अरे ? वो बारिश ? … बंगला ? वो मोनिशा… वो गाड़ी ? … वो नेम प्लेट ? वहाँ तो कोई नहीं था। तो क्या मैं सपना देख रहा था। ये कैसे हो सकता है। मेरे अंगूठे पर तो अब भी खून जमा था। वो नेम प्लेट ओह। मो-निशा पी.

बीएफ दिखाइए 2021 का इसी वजह से मैं कहानी नहीं लिख पाया।आज कुछ फुर्सत मिली तो सोचा कि कुछ लिखा जाये।पहले सोचा कि कोई पुरानी बात लिखूँ, फिर सोचा कि जो नया हुआ है मेरे साथ वही लिखता हूँ, पुराना फिर कभी बाद में।तो हुआ यूँ कि फेसबुक पर सर्च करते हुए मेरी मुलाक़ात एक लड़की निशा से हुई.

बीएफ चोदा वाला

बिहारी बीएफ बीएफ: ‘भाभी, एक बात कहूँ, बुरा मत मानना और ना भी मत कहना!’‘क्…क्… कहो, पर दूर तो हटो!’‘भाभी आज चुदवा लो, प्लीज, मना मत करो, देखो मेरा लौड़ा कितना उतावला हो रहा है!’‘आ… आ… ये क्या बदतमीजी है भैया… हट जाओ!’ तभी मुझे गोमती नजर आ गई.सारी तैयारी करने के बाद मैं अपनी सीट पर लेट गई और मैगज़ीन पढ़ते हुए टीटी का इंतजार करने लगी.